मई 22, 2017

टाटा सन्स ने सौरभ अग्रवाल को समूह का मुख्य वित्तीय अधिकारी नियुक्त किया

मुंबई: टाटा सन्स ने आज कंपनी के मुख्य वित्तीय अधिकारी के रूप में सौरभ अग्रवाल की नियुक्ति की घोषणा की। श्री अग्रवाल, जो भारत के एक बेहद सफल निवेश बैंकर हैं, टाटा समूह में अपने साथ पूंजी बाजार में दो दशकों से ज्यादा का समृद्ध अनुभव लेकर आए हैं।

वे जुलाई 2017 के प्रभाव से कंपनी में योगदान करेंगे।

1995 में अपने कैरियर की शुरुआत के साथ, श्री अग्रवाल का कंपनियों की एक विस्तृत श्रेणी में, रणनीति और कार्यान्वयन दोनों ही क्षेत्रों में एक शानदार रिकार्ड रहा है। वे आदित्य बिरला समूह से टाटा संस में आए हैं, जहां वे रणनीति के प्रमुख थे। इससे पूर्व, वे भारत तथा दक्षिणी एशिया में स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक के कारपोरेट वित्त इकाई के प्रमुख तथा डीएसपी मेरिल लिंच के निवेश बैंकिंग विभाग के प्रमुख रह चुके हैं।

श्री अग्रवाल का स्वागत करते हुए, टाटा संस के अध्यक्ष, एन चंद्रशेखरन ने कहा, “वे टाटा समूह में अपनी महत्वपूर्ण नेतृत्व भूमिका के लिए गहन पूंजी बाजार अनुभव तथा महत्वपूर्ण अंतर-औद्योगिक अनुभव साथ लाए हैं। उनकी विशेषज्ञता से हमें कठिन तथा समन्वयपूर्ण पूंजी आवंटन निर्णयों, निवेश प्रबंधन के साथ ही समूह के व्यावसायिक विभाग के समेकन और अनुकूलन में भी सहायता मिलेगी। हम समूह के वित्तीय प्रदर्शन को बेहतर बनाने में उनके योगदान की आशा करते हैं।

श्री अग्रवाल ने कहा, “मुझे टाटा समूह से जुड़ने का सम्मान मिला है। श्री चंद्रशेखरन के नेतृत्व में समूह के लिए यह एक महत्वपूर्ण समय है, और मुझे आशा है कि मैं कॉरपोरेट वित्त के क्षेत्र में अपनी विशेषज्ञता के द्वारा समूह के लिए लाभदायक वृद्धि में योगदान कर सकूंगा।

श्री अग्रवाल भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की के स्नातक हैं, और उन्होंने प्रबंधन में परास्नातक की उपाधि भारतीय प्रबंधन संस्थान, कोलकाता से प्राप्त की है।